क्रिप्टोकरेंसी क्या है? क्या आप भी अपनी क्रिप्टोकरेंसी बना सकते हैं?

Cryptocurrency Meaning In Hindi: आज दुनियाभर में Cryptocurrency की धूम है? बिटकॉइन का नाम तो हम सभी ने सुना ही है। बिटकॉइन को Satoshi Nakamoto द्वारा सन 2009 में बनाया गया। पहले तो इसको किसी ने गंभीरता से नहीं लिया। सन 2011 में पहली बार Bitcoin ने $1 के स्तर को छुआ। उस समय के डॉलर-रूपए कन्वर्जन रेट अनुसार इसकी कीमत लगभग 44 रूपए के आसपास था। लेकिन आज (इस लेख के लिखे जाने तक) 1 Bitcoin का रेट लगभग 44 लाख रूपए के आसपास है। यह 10 साल की अवधि में मिलने वाले किसी भी इन्वेस्टमेंट रिटर्न से हजारों गुना ज्यादा है। यही कारण है कि अब हर कोई Cryptocurrency में इन्वेस्ट करना चाहता है, लकिन आखिर क्रिप्टोकरेंसी क्या है? क्या आप भी Satoshi Nakamoto अपनी खुद की Cryptocurrency बना सकते हैं? आइए जानते हैं।

Cryptocurrency क्या है? – What Is Cryptocurrency In Hindi

Cryptocurrency Meaning In Hindi, Indian Cryptocurrency, Cryptocurrency In Hindi

Cryptocurrency एक Digital Asset है जिसका उपयोग ऑनलाइन लेनदेन (Digital Transactions) के लिए होता है। इसलिए इसे Digital Currency भी कहते हैं। इन Currencies में Cryptography का उपयोग किया जाता है। Cryptography एक Peer To Peer इलेक्ट्रॉनिक्स सिस्टम है जहां इंटरनेट के जरिए बहुत सारे Computers एकदूसरे से जुड़े होते हैं। वह भी बिना किसी Central Server की आवश्यकता के। इसका मतलब यह है की इन कम्प्यूटर्स के जरिए होने वाले व्यव्हार (transactions) किसी एक सेंट्रल सर्वर पर रजिस्टर नहीं होते। यही कारण है की Cryptocurrency Transactions किसी भी Governments और Banks की पहुंच से बाहर होते हैं। क्योंकि इन्हें ट्रैक करना लगभग नामुमकिन होता है। इसलिए Cryptocurrency का उपयोग illegal गतिविधियों के जोरों से किया जाता है। खासकर Dark Web पर ये करेंसी बेहद प्रचलित है।

Cryptocurrency In Hindi – प्रचलित क्रिप्टो करेंसी के नाम

Cryptocurrency Meaning In Hindi, Indian Cryptocurrency, Cryptocurrency In Hindi
Photo by Karolina Grabowska from Pexels

वैसे तो Bitcoin की सफलता के बाद दुनियाभर में कई Cryptocurrencies निर्माण हो गई हैं, लेकिन उनमें से कुछ बेहद प्रचलित Cryptocurrencies की list यहां दी गई हैं जो एक बेहतर इन्वेस्टमेंट विकल्प हो सकती हैं।

  • Bitcoin (BTC)
  • Ethereum (ETH)
  • Litecoin (LTC)
  • Dogecoin (DOGE)
  • Faircoin (FAIR)
  • Peercoin (PPC)
  • Dash (DASH)
  • Ripple (XRP)
  • Monero (XMR)
  • Tether (USDT)
  • Cardano (ADA)
  • Polkadot (DOT)
  • Bitcoin Cash (BCH)
  • Stellar (XLM)
  • Chainlink
  • Binance Coin (BNB)

Cryptocurrency In India – भारत मे अपनी Cryptocurrency कैसे बनाएं

Cryptocurrency Meaning In Hindi, Indian Cryptocurrency, Cryptocurrency In Hindi
Photo by Crypto Crow from Pexels

भारत मे अपनी खुद की Cryptocurrency (Indian Cryptocurrency) बनाने के लिए कुछ बातो का ध्यान रखना जरूरी है, जो कि इस तरह है;

Blockchain

क्रिप्टोकरेंसी बनाने की दिशा में पहला कदम एक Blockchain बनाना है। ब्लॉकचेन तकनीक आज दुनिया में दिखाई देने वाली हर क्रिप्टोकरेंसी की Basic Requirement है। एक ब्लॉकचेन में हर क्रिप्टोकरेंसी का विवरण होता है। यह एक Ledger Book है जो आपके पास मोजूदा Cryptocurrency सारी Details आपको दिखाता है।

Coding Knowledge

भारत मे खुद की Cryptocurrency बनाने के लिए Coding की जानकारी होना बेहद जरुरी है। इंटरनेट पर पाए जाने वाले सभी सॉफ्टवेयर एक कोड से बने होते हैं। क्रिप्टोकरेंसी के साथ भी यही मामला है। दुनिया की ज्यादातर क्रिप्टोकरेंसी C++ कोड का उपयोग करके बनाई गई है। ऐसे मे आपको पूरा कोड लिखने की जरुरत नही है। ज्यादातर Basic Code आप GitHub से आउटसोर्स कर सकते हैं।

Security

इसके आलावा करेंसी की Security बेहद जरूरी है। क्योंकि Digital Assets को सबसे ज्यादा खतरा Hackers से होता है। आपकी Currency में चाहे कितना भी दम क्यों ना हो यदि वह सुरक्षित नहीं है तो बाजार में वह ज्यादा दिनों तक टिक नहीं पाएगी। BlockChain निर्माण के लिए कई सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर बाजार में उपब्ध हैं।

Marketing

नई करेंसी की Marketing भी बेहद जरुरी है ताकि बाजार में उसे पहचान मिल सके और आपकी करेंसी की Demand बढ़ सके। इसके लिए आप व्यापारियों के पास जाकर उनसे अपनी क्रिप्टोकरेंसी को भुगतान के तरीके के रूप में स्वीकार करने का अनुरोध कर सकते है।

Crypto Mining

एक बार आपकी Currency की Market Demand जेनेरेट होने लगे फिर आपको आवश्यकता होगी Crypto Miners की। Crypto-Miners नए Crypto Coins का निर्माण करते हैं तथा Digitally होने वाले क्रिप्टोकरेंसी Transactions को Approve करते हैं। Crypto-Mining कोइ भी कर सकता है। इसके लिए बस कुछ Software और Hardware का होना तथा Basic Coding की जानकारी होना जरुरी है।

Cryptocurrency एक बहुत बड़ा विषय है। इसके बारे में जितना जानों उतना कम ही है। फिर भी इस लेख में हमने Cryptocurrency के Basics जैसे की क्रिप्टोकरेंसी क्या है (Cryptocurrency Meaning In Hindi) Cryptocurrency के प्रकार (Cryptocurrency List) और अगर आप भारत में खुद की क्रिप्टोकरेंसी (Indian Cryptocurrency) बनाना चाहते हैं तो क्या करें? इत्यादि समझने की कोशिश की। इसके अलावा यदि आप कुछ और जानने के इच्छुक हों तो कमेंट कर के अपनी राय हमें जरूर बताएं।

Leave a Reply